Wednesday, June 20, 2018

अमेरिका ने दुनिया का सबसे तेज सुपरकम्प्यूटर 'समिट' बनाया

अमेरिकी वैज्ञानिकों ने 'समिट' नामक दुनिया के सबसे शक्तिशाली और सबसे बुद्धिमान वैज्ञानिक सुपरकंप्यूटर का अनावरण किया है जो प्रति सेकंड 200,000 ट्रिलियन गणनाओं को पूरा कर सकता है - ऊर्जा, उन्नत सामग्री और कृत्रिम बुद्धि (AI) में अनुसंधान के लिए अभूतपूर्व कंप्यूटिंग शक्ति प्रदान करता है। अमेरिका के ऊर्जा विभाग ओक रिज नेशनल लेबोरेटरी (ORNL) के सुपरकंप्यूटर समिट अपने पिछले शीर्ष रैंकिंग सिस्टम-टाइटन की तुलना में आठ गुना अधिक शक्तिशाली होगा। अभी तक चीन का सनवे ताइहूलाइट (Sunway TaihuLight) दुनिया का सबसे तेज सुपरकम्प्यूटर था जो एक सेकेण्ड में 93 पेटाफ्लॉप्स गणनाएं करने में सक्षम है। चीन से इस सुपरकम्प्यूटर के द्वारा अमेरिका से सबसे तेज सुपरकम्प्यूटर का खिताब हासिल किया था।
समिट सुपरकम्प्यूटर का कुल भार 340 टन है, इसे ठण्डा रखने के लिए करीब 4 हजार गैलन पानी की आवश्यकता पड़ती है तथा यह 8,000 अमेरिकी घरों द्वारा प्रयोग में लाई जाने वाली ऊर्जा के बराबर ऊर्जा खपत करता है। इसका आकार लॉन टेनिस के तीन कोर्ट के बराबर है। जहाँ तक इसके प्रयोग की बात है तो इसका इस्तेमाल विज्ञान से लेकर औषधि तक अनेकानेक कार्यों के लिए किया जा सकेगा। यह अमेरिका में कैंसर ग्रस्त लोगों की जनसंख्या का काफी विस्तृत आकलन कर सकेगा तथा अल्ज़ाइमर जैसे रोगों के कारणों तथा पैटर्न का अध्ययन कर सकेगा।

0 comments:

Post a Comment